पीछा - ततततत

This quote was added by rahulknp
जानकी गाडी तेजी से दौडने लगी थी। थोडीही देर में जिस गाडी के पिछे के कांच पर खुन से शुन्य निकाली हूई तस्वीर लगी थी वह गाडी उसे दिखाई देने लगी। वह गाडी दिखते ही जानव के शरीर मे और जोश आ गया और उसके गाडी की गती उसने और बढाई। थोडीही देर में वह उस गाडी के नजदीक पहूंच गया। लेकिन यह क्या? उसकी गाडी नजदीक पहूचते ही सामने के गाडी ने अपनी रफ्तार और तेज कर ली और वह गाडी जान के गाडी से और दूर जाने लगी। जान ने भी अपने गाडी की रफ्तार और बढाई। दोनो गाडीकी मानो रेस लगी थी।.

Train on this quote


Rate this quote:
3.1 out of 5 based on 4 ratings.

Edit Text

Edit author and title

(Changes are manually reviewed)

or just leave a comment:


Test your skills, take the Typing Test.

Score (WPM) distribution for this quote. More.

Best scores for this typing test

Name WPM Accuracy
shubhammishra 48.07 90.8%
shubhammishra 46.90 88.6%
vimlesh.maurya42 45.47 97.9%
vimlesh.maurya42 40.95 96.5%
vimlesh.maurya42 34.19 91.2%
pankajsinghukc 33.01 90.4%
user75427 32.03 93.0%
user75427 31.53 90.6%

Recently for

Name WPM Accuracy
user75427 32.03 93.0%
user75427 31.53 90.6%
user75427 30.46 94.5%
user75427 29.22 92.8%
user75427 24.30 93.1%
user75427 28.44 94.1%
aarti2505 13.69 96.9%
aarti2505 11.35 94.5%