Recent comments

Bill Waterson
bill waterson, my man!

Walt Whitman
To W.W. My Star, My Perfect Silence.

Mia Kells
We used to tell each other how perfect they are and how perfect they looked. ...

Fullmetal Alchemist
But they never sucessul to retrieve live from deaths, because that is not possible their ...

My Hero Academia
; )

More

Quotes

Add a new quote

Recent quotes - Best quotes - Worst quotes -

प्रभुजी - प्रभु-परमेश्वर से ऑनलाईन रहिये
जब तक आपके ह्रदय का तार अपने प्रभु-परमेश्वर से जुड़ा रहता है तब तक कोई भी, किसी भी तरह से दिक्कत नहीं आती । वायर डिसकनेक्ट हुआ कि अशांति, बेचैनी, विघ्न जिसकी कोई किमत ही नहीं है वो भी आपके उपर हावी हो जाती है । इसलिए हमेशा प्रभु-परमेश्वर से ऑनलाईन रहिये ।.

प्रभुजी - विवेक
आपके ह्रदय में विवेकरुपी चीप जो बाय डिफॉल्ट फिट है उसके अन्दर व्यवहार से लेकर परमार्थ तक क्या करना है, क्या नहीं करना है यह स्टोअर है । और हम जब-जब उसका जितनी बार अनादर करते हैं उतनी-उतनी बार कष्ट पाते हैं और ईश्वर-कृपा, समय और मनुष्य जन्म हमारे हाथ में से निकल जाते हैं । इसलिए विवेक का आदर हर हालत में हर किमत पर करना चाहिए ।.

नरेन्द्र मोदी - नरेन्द्र मोदी
आज हमारे समाज में एक नहीं अनेक प्रकार की समय की बात तहतै की जब हम नहीं चाहते थे कि लोग क्या कर रहे हैं क्या नही क्या नहीं क्योंकि लोगों के पास जो भी है वह बहुत ही सुन्दर है क्योंकि लोग यही चाहते हैं कि उनके पास बहुत सारी चीजे हो जाये और वे भी अच्छी तरह से रहने लगे और लोगों की सेवा करने लगे और यही बात तो है जो मुझे परेशान करती है क्योंकि लोगों के नाम का रोना हमें पड़ता है क्योंकि सीमा का नाम आते ही लोगों के होश उड़ जाते हैं क्योंकि उनके मामा का नाम बहुत ही पुराना हो गया है और वे चाहते हैं कि

नरेन्द्र मोदी - नरेन्द्र मोदी
देश ने पिछले 15 दिनों में दो बातें स्पष्ट देखी हैं। एक तरफ विकासवाद है तो दूसरी तरफ विरोधवाद है। विकासवाद और विरोधवाद के बीच ये जनता जनार्दन है, जो दूध का दूध और पानी का पानी करके क्या सत्य है, इसको भलीभांति नाप सकती है।.

d0892
बिस्तर पर पड़े दोस्त ने पूछा, कौन सा काम तुम मरने के बाद स्वर्ग में क्रिकेट खेलतें है या नहीं खेलते इसके बारे में मुझे जरुर बताओगे। दोनों ही क्रिकेट के बहुत दिवाने थे. क्यों नही जरुर बिस्तर पर पड़े दोस्त ने कहा और एक दो दिन में ही बीमार पड़ा दोस्त भगवान को प्यारा हो गया कुछ दिन बाद जो जिंदा बूढ़ा दोस्त था उसे नींद में अपने मरे हुए दोस्त की आवाज सुनाई दी। "तुम्हारे लिए मेरे पास दो खबरें है...एक बुरी और एक अच्छी ..."

d0892
इस किले में कत्‍लेआम किये गये लोगों की रूहें आज भी भटकती हैं। कई बार इस समस्‍या से रूबरू हुआ गया है। एक बार भारतीय सरकार ने अर्धसैनिक बलों की एक टुकड़ी यहां लगायी थी ताकि इस बात की सच्‍चाई को जाना जा सकें, लेकिन वो भी असफल रही कई सैनिकों ने रूहों के इस इलाके में होने की पुष्ठि की थी। इस किले में आज भी जब आप अकेलें होंगे तो तलवारों की टनकार और लोगों की चींख को महसूस कर सकतें है.

d0892 - कहानी2
दुनिया में ऐसी जगहों के बारें में लोग जानते है, लेकिन बहुत कम ही लोग होते हैं, जो इनसे रूबरू होने की हिम्‍मत रखतें है। जैसे हम दुनिया में अपने होने या ना होने की बात पर विश्‍वास करतें हैं वैसे ही हमारे दिमाग के एक कोने में इन रूहों की दुनिया के होने का भी आभास होता है। ये दीगर बात है कि कई लोग दुनिया के सामने इस मानने से इनकार करते हों, लेकिन अपने तर्कों से आप सिर्फ अपने दिल को तसल्‍ली दे सकते हैं, दुनिया की हकीकत को नहीं बदल सकते है।.

d0892 - हसन 1
समय, सफलता की कुंजी है। समय का चक्र अपनी गति से चल रहा है या यूं कहें कि भाग रहा है। अक्सर इधर-उधर कहीं न कहीं, किसी न किसी से ये सुनने को मिलता है कि क्या करें समय ही नही मिलता। वास्तव में हम निरंतर गतिमान समय के साथ कदम से कदम मिला कर चल ही नही पाते और पिछङ जाते हैं। समय जैसी मूल्यवान संपदा का भंडार होते हुए भी हम हमेशा उसकी कमी का रोना रोते रहते हैं क्योंकि हम इस अमूल्य समय को बिना सोचे समझे खर्च कर देते हैं।

?????? ??????????
वीरता से आगे बढो। एक दिन या एक साल में सिध्दि की आशा न रखो। उच्चतम आदर्श पर दृढ रहो। स्थिर रहो। स्वार्थपरता और ईर्ष्या से बचो। आज्ञा-पालन करो। सत्य, मनुष्य -- जाति और अपने देश के पक्ष पर सदा के लिए अटल रहो, और तुम संसार को हिला दोगे। याद रखो -- व्यक्ति और उसका जीवन ही शक्ति का स्रोत है, इसके सिवाय अन्य कुछ भी नहीं।

?????? ??????????
हे सखे, तुम क्योँ रो रहे हो ? सब शक्ति तो तुम्हीं में हैं। हे भगवन्, अपना ऐश्वर्यमय स्वरूप को विकसित करो। ये तीनों लोक तुम्हारे पैरों के नीचे हैं। जड की कोई शक्ति नहीं प्रबल शक्ति आत्मा की हैं। हे विद्वन! डरो मत्; तुम्हारा नाश नहीं हैं, संसार-सागर से पार उतरने का उपाय हैं। जिस पथ के अवलम्बन से यती लोग संसार-सागर के पार उतरे हैं, वही श्रेष्ठ पथ मै तुम्हे दिखाता हूँ!

?????? ??????????
जो महापुरुष प्रचार-कार्य के लिए अपना जीवन समर्पित कर देते हैं, वे उन महापुरुषों की तुलना में अपेक्षाकृत अपूर्ण हैं, जो मौन रहकर पवित्र जीवनयापन करते हैं और श्रेष्ठ विचारों का चिन्तन करते हुए जगत् की सहायता करते हैं। इन सभी महापुरुषों में एक के बाद दूसरे का आविर्भाव होता है–अंत में उनकी शक्ति का चरम फलस्वरूप ऐसा कोई शक्तिसम्पन्न पुरुष आविर्भूत होता है, जो जगत् को शिक्षा प्रदान करता है।